रविवार, 20 सितंबर 2009

आओ हम डांस करें मिल के ख़ुदको एडवांस करें


आओ हम
डांस करें मिल के ख़ुदको एडवांस करें
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

आँखों में आँखों डालो दिलवर दिल को उछालो
मस्ती में मौज मना लो बांहों में
बांहें को डालो
जीवन तेरे बिना क्या जीना सुन
मेरी हंसीना
होगा इन आँखों से पीना होगा इन बांहों में जीना
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

देखो छेडो मुझको कुछ कुछ होता है मुझको
क्या कुछ होता है तुझको बांहों में ले लो मुझको
बदन यह गोरा
गोरा देखो पगलाये है मन मोरा
चूमें हम थोड़ा थोड़ा मिलके झूमें हम थोड़ा थोडा
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

देखो सब झूम रहे हैं एक दूजे को सब चूम रहे है
मस्ती में सब कूक रहे हैं पर हम क्यों चूक रहे हैं
तुझसा ना कोई मिला,मिला तो दिल मेरा खिला
दिल में ना कोई गिला मस्ती में पी और पिला
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

मेरे सपनों के राजा थोडा सा और करीब जा
मस्ती में मुझ पर छा जा मुझसे अब दूर ना जा
होंगे हम कभी जुदा तुझसे आने लगा है मजा
भायी है हर तेरी अदा चाहे मिले अब कोई सजा
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

मुझको संभालो मैं गयी देखो पागल दीवानी हुई
कुछ भी अब दिखता नहीं मन मारे चुकता नहीं
मेरे सपनों की रान हाय तेरी यह मस्त जवानी
होने लगी
ये पानी पानी छाने लगी मुझपे रवानी
मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें

6 टिप्‍पणियां:

  1. मेरे सपनों की रानी हाय तेरी यह मस्त जवानी
    होने लगी ये पानी पानी छाने लगी मुझपे रवानी
    मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें।

    ये आग क्यूँ भड़का रहे हो,
    घी ही घी डाले जा रहे हो,

    ये आग कैसे बुझेगी?

    उत्तर देंहटाएं
  2. "मेरे सपनों की रानी हाय तेरी यह मस्त जवानी
    होने लगी ये पानी पानी छाने लगी मुझपे रवानी
    मौसम हँसीन दिल भी रंगीन आओ रोमांस करें।"

    आपके सदाबहार जवान गीतों को प्रणाम।

    उत्तर देंहटाएं
  3. यह तुकबंदी यदि व्यंग्य है तो पसंद आयी.

    उत्तर देंहटाएं
  4. आप सभी ब्लोगर मित्रों का मेरा हौसला बढाने के लिए दिल से धन्यबाद!!

    उत्तर देंहटाएं