सोमवार, 6 जून 2011

वो बहुत दूर हैं मगर फिर भी दिल के पास हैं



वो बहुत दूर हैं मगर फिर भी दिल के पास हैं
हम उनके साथ साथ वो हमारे साथ साथ हैं
उनकी खासियत एक नहीं कई एक गिनादूं
वो मेरे लिए खास हैं हम उनके लिए खास हैं


मेरे ख्यालों पर बस उन्हीं का चलता राज है
उनके राज से ये जिन्दगी का बजता साज है

उनसे ही हमारा
कल था उनसे ही कल होगा
उनकी बदौलत
ही तो फूलता फलता आज है

मैं उसकी सजनी और वो हमारा साजन होगा
उसकी खुश्बू से महकता हमारा आंगन होगा
एक दूजे के प्यार में दिल से हम डूबते जायेंगे
मस्ती में मुस्कराता हुआ हमारा जीवन होगा

2 टिप्‍पणियां: