रविवार, 20 सितंबर 2009

हाय तेरे रूप ने मेरी हालत ख़राब की


हाय तेरे रूप ने मेरी हालत ख़राब की
ऐसी है मस्ती दिलवर तेरे शबाव की

प्यार से तुमने मुझे देख जाने जिगर
मेरी जिन्दगी ही तुमने लाजवाब की

जिसे मैंने तरासा था ख्वाबों में कभी
वो ही तमन्ना हो तुम मेरे ख्वाब की

जब से मैंने पी ली तेरी इन आँखों से
मुझे जरूरत क्या पड़ी अब शराब की

जिन्दगी यूँ ही कट जायेगी मस्ती में
बस मुझपे यूँ इनायत रहे जनाब की



13 टिप्‍पणियां:

  1. जब से मैंने पी ली तेरी इन आँखों से
    मुझे जरूरत क्या पड़ी अब शराब की।
    बेहतरीन भाव और समर्पण की अभिव्यक्ति
    बहुत खूब

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया और शानदार रचना लिखा है आपने! इस लाजवाब और बेहतरीन रचना के लिए ढेर सारी बधाइयाँ!

    उत्तर देंहटाएं
  3. हाय तेरे रूप ने मेरी हालत ख़राब की।
    ऐसी है मस्ती दिलवर तेरे शबाव की।

    बहुत बढ़िया पंक्तियां हैं,
    सुबह सुबह हालत खराब कर दी

    उत्तर देंहटाएं
  4. प्रेम जी,
    ग़ज़ल तो बहुत अच्छी है

    लेकिन ये लक्षण अच्छे नहीं हैं.......

    एक शादीशुदा आदमी को ऐसी बातें सोचते देख कर फ़िर हमारे मन में भी कुछ कुछ होने लगता है.......

    वैसे मज़ा बहुत आता है ऐसा लिख कर

    ठीक कहा न ?

    उत्तर देंहटाएं
  5. संडे को सुबह सुबह aashikana मूड. आज तो दिन achchha gujrega. बढ़िया , maza aa गया.

    उत्तर देंहटाएं
  6. जब से मैंने पी ली तेरी इन आँखों से
    मुझे जरूरत क्या पड़ी अब शराब की।

    मजा आ गया पढ़ कर ........... क्या लिखा है ....

    उत्तर देंहटाएं
  7. बेहद खूबसूरत रचना है।
    वैसे अलबेला खत्री जी की भी
    मीठी टिप्पणी/ नेक सलाह
    की भी लाज रखना।

    "प्रेम जी,
    ग़ज़ल तो बहुत अच्छी है
    लेकिन ये लक्षण अच्छे नहीं हैं.......
    एक शादीशुदा आदमी को ऐसी बातें सोचते देख कर फ़िर हमारे मन में भी कुछ कुछ होने लगता है.......
    वैसे मज़ा बहुत आता है ऐसा लिख कर
    ठीक कहा न ?"


    नवरात्रों की शुभकामनाएँ!
    ईद मुबारक!!

    उत्तर देंहटाएं
  8. BAHUT KOOB SHARMA JI.
    AAPKI HALAT TO US DOGGI JAISI HAI JISE KHUJALI VALI KUTIYA BHI PARI NAZAR AATI HAI.
    KYA TUM APANI BIBI SE SANTUST NAHI HO.

    उत्तर देंहटाएं
  9. क्या बात है, सब शर्मा जी के साथ ऐसा व्यवहार क्यों कर रहे हैं जैसे प्रेम-गीत/गज़ल पहली बार लिखी गई हो? सुन्दर रचना है.

    उत्तर देंहटाएं
  10. आप सभी ब्लोगर मित्रों का मेरा हौसला बढाने के लिए दिल से धन्यबाद!!

    उत्तर देंहटाएं