सोमवार, 27 जुलाई 2009

इस दुनिया में कौन है अपना कहना मुश्किल है


इस दुनिया में कौन है अपना कहना मुश्किल है।
जाने कौन कब दे जाए धोखा कहना मुश्किल है।

कहने को सब ही कहते हैं कि हम साथ निभाएंगे
लेकिन कौन निभाएगा कब तक कहना मुश्किल।

अक्सर लोग भरोसे में लेकर ही तोड़ देते हैं भरोसा
आख़िर किस पर हम करें भरोसा कहना मुश्किल है।

कहते हैं मुहब्बत और जंग में सब कुछ जायज है
पर इनके सिवा और बचा क्या कहना मुश्किल है।

15 टिप्‍पणियां:

  1. प्रेम जी नमस्कार बहुत हे बेहतरीन ये खाश कर
    कहने को सब ही कहते हैं कि हम साथ निभाएंगे
    लेकिन कौन निभाएगा कब तक कहना मुश्किल।
    मेर प्रणाम स्वीकार करे
    सादर
    प्रवीण पथिक
    9971969084

    उत्तर देंहटाएं
  2. इस दुनिया में कौन है अपना कहना मुश्किल है।
    जाने कौन कब दे जाए धोखा कहना मुश्किल है।
    सही कहा है किस पर भरोसा किया जाये बहुत मुश्किल है यह समझ पाना
    अच्छी अभिव्यक्ति

    उत्तर देंहटाएं
  3. कहते हैं मुहब्बत और जंग में सब कुछ जायज है
    पर इनके सिवा और बचा क्या कहना मुश्किल है।

    atisundar dang se aapani bato ko kahi hai......par inlino ka jabaab nahi hai

    उत्तर देंहटाएं
  4. अक्सर लोग भरोसे में लेकर ही तोड़ देते हैं भरोसा
    आख़िर किस पर हम करें भरोसा कहना मुश्किल है।

    बेहतरीन शायरी है भइया जी।
    बधाई।

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत ही सुन्‍दर अभिव्‍यक्ति ।

    उत्तर देंहटाएं
  6. are wah bahut sachchi baat kah di aapne/
    अक्सर लोग भरोसे में लेकर ही तोड़ देते हैं भरोसा
    आख़िर किस पर हम करें भरोसा कहना मुश्किल है।
    lazavaab she'r he janaab/

    उत्तर देंहटाएं
  7. WaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaaH jhalli-kalam-se
    jhallevichar.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह बहुत बढ़िया और दिल को छू लेने वाली रचना है!

    उत्तर देंहटाएं
  9. दिलको बहलाने , गालिब ख्याल अच्छा है '...बस यही सच है ,कि ,जंग और प्यार मे सब जायज़ माना ...लेकिन या तो प्यार न था , या फिर सिर्फ़ जंग ही था ..जो उन्हें जायज़ लगा ,हमें नही ...!

    http://shamasansmaran.blogspot.com

    http://kavitasbyshama.blogspot.com

    http://aajtakyahantak-thelightbyalonelypath.blogspot.com

    http://lalitlekh.blogspot.com

    http://shama-baagwaanee.blogspot.com

    http://shama-kahanee.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  10. SIR APKI TO HAR RACHNA KAMAL KI HAI,MUJH JAISA ADNA SHAKSH KYA KEH SAKTA HAI,

    APKO SAMARPIT EK PANKTI

    KAHAN SURYA KA PRAKHAR TEZ,KAHAN HUM DIYA SAMAN.

    उत्तर देंहटाएं